मंडी रेट: तेल-तिलहनों के गिरे दाम, चना कांटा, अरहर और मूंग के बढ़े भाव

शिकॉगो एक्सचेंज में गिरावट के बीच दिल्ली तेल-तिलहन बाजार में गुरुवार को लगभग सभी तेल-तिलहनों के भाव में नरमी रही। आगरा में मिलों द्वारा सरसों की कीमत 100 रुपये बढ़ाये जाने से सरसों तेल तिलहन के भाव पूर्वस्तर पर बने रहे। खास बात यह है की इंदौर के संयोगितागंज अनाज मंडी में चना कांटा 50 रुपये, तुअर (अरहर) 100 रुपये और मूंग के भाव में 100 रुपये प्रति क्विंटल की तेजी आयी। मसूर 25 रुपये प्रति क्विंटल सस्ती बिकी।

जानकारी के अनुसार शिकॉगो एक्सचेंज में लगभग लगभग एक प्रतिशत की गिरावट थी। गिरावट का असर लगभग सभी तेल-तिलहन पर दिखा। वहीं,  केन्द्रीय खाद्य सचिव, सुधांशु पांडेय ने कहा कि जब देश अपनी खाद्य तेल की आवश्यकता के लगभग 60 प्रतिशत भाग का आयात करने पर निर्भर है, तो घरेलू कीमतें स्वाभाविक रूप से अंतरराष्ट्रीय कीमतों से प्रभावित होंगी।

यह भी पढ़ें  10 फीसदी तक बढ़ चुके हैं सोयाबीन तेल के दाम, आगे और बढ़ने की आशंका, जानें क्यों और कितना बढ़ेगा रसोई का बजट

कीमतों के और घटने की उम्मीद : केन्द्रीय खाद्य सचिव, सुधांशु पांडेय ने कहा कि भारत में सरकार के हस्तक्षेप के बाद खाद्य तेल की कीमतें लगातार नीचे आ रही हैं और रबी सत्र की सरसों की बेहतर फसल आने के बाद कीमतों के और घटने की उम्मीद है। केन्द्रीय खाद्य सचिव, सुधांशु पांडेय ने कहा कि सरकार ने खाद्य तेलों के मामले में आयात शुल्क घटाकर लगभग शून्य कर दिया है और इसने (खुदरा) कीमतों में बहुत महत्वपूर्ण कमी दिखाई है। सरकार द्वारा विभिन्न अंशधारकों के साथ कई बैठकें करने के बाद खुदरा खाद्य तेल की कीमतों में 15 से 20 प्रतिशत की कमी आई है।

सरसों तिलहन के भाव में 100 रुपये की वृद्धि : आपको बता दे की आगरा में बीपी आयल मिल ने सरसों तिलहन के भाव में 100 रुपये की वृद्धि की। इससे बाकी स्थानों पर भी सरसों मांग रही और इस वजह से सरसों तेल तिलहन के भाव पूर्वस्तर पर ही बंद हुए। फरवरी आखिरी सप्ताह या मार्च पहले सप्ताह तक सरसों की अगली फसल आने तथा खेती के रकबे में वृद्धि को देखते हुए सरसों का उत्पादन में भारी वृद्धि की उम्मीद है। इस बीच गुजरात में तेल मिल वालों की सरसों की मांग देखी गई, जबकि वहां मंडियों में सरसों की आवक ही नहीं हो रही है।

यह भी पढ़ें  Petrol Diesel Price Today: 108 दिन राहत भरे, चेक करें पेट्रोल-डीजल के नए रेट

     दिल्ली मंडी में थोक भाव इस प्रकार रहे-  (भाव- रुपये प्रति क्विंटल)

  •      सरसों तिलहन – 8,060 – 8,090  (42 प्रतिशत कंडीशन का भाव) रुपये।
  •      मूंगफली – 5,725 –  5,810 रुपये।
  •      मूंगफली तेल मिल डिलिवरी (गुजरात) – 12,700 रुपये।
  •      मूंगफली साल्वेंट रिफाइंड तेल 1,860 – 1,985 रुपये प्रति टिन।
  •      सरसों तेल दादरी- 16,100 रुपये प्रति क्विंटल।
  •      सरसों पक्की घानी- 2,410 -2,535 रुपये प्रति टिन।
  •      सरसों कच्ची घानी- 2,590 – 2,705 रुपये प्रति टिन।
  •      तिल तेल मिल डिलिवरी – 16,700 – 18,200 रुपये।
  •      सोयाबीन तेल मिल डिलिवरी दिल्ली- 12,820 रुपये।
  •      सोयाबीन मिल डिलिवरी इंदौर- 12,460 रुपये।
  •      सोयाबीन तेल डीगम, कांडला- 11,450
  •      सीपीओ एक्स-कांडला- 10,800 रुपये।
  •      बिनौला मिल डिलिवरी (हरियाणा)- 11,450 रुपये।
  •      पामोलिन आरबीडी, दिल्ली-  12,150 रुपये।
  •      पामोलिन एक्स- कांडला- 11,100  (बिना जीएसटी के)।
  •      सोयाबीन दाना 6,500 – 6,550, सोयाबीन लूज 6,300 – 6,350 रुपये।
  •      मक्का खल (सरिस्का) 3,850 रुपये।
यह भी पढ़ें  Pradhan Mantri Yuva Rojgar Yojana: प्रधानमंत्री युवा रोजगार योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करे, जाने सबकुछ