Electric Scooter चलाते वक्त रखें इन बातों का बहुत ज्यादा ध्यान, होगा फायदा

भारत में बैटरी से चलने वाली Scotty का चलन आ गया है | बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दाम को देखते हुए लोग अब बैटरी वाली स्कूटर या बैटरी वाले बाइक को लेना पसंद कर रहे हैं | बता दे की अगर आप कोई इलेक्ट्रिक स्कूटर चलाते हैं या आने वाले समय में इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदने का विचार बना रहे हैं तो आज हम आपको इलेक्ट्रिक स्कूटर चलाने से जुड़ी कुछ जरूरी बातें बताने वाले हैं. दरअसल, जब आप इलेक्ट्रिक स्कूटर राइड करें तो आपके दिमाग में कुछ चीजें बहुत क्लियर होनी चाहिए, जिनका आपको ख्याल रखना है. इन चीजों का ख्याल रखने से आप संभावित परेशानियों से बच सकते और अपनी यात्रा आराम से पूरी कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें  बिहार को केंद्रीय कोटे से 700 मेगावाट कम मिली बिजली, खुले बाजार में भी किल्लत, जानें कितनी की है जरुरत

राइडिंग रेंज : आपको बता दे की जब आप स्कूटर लेकर घर से बाहर निकलें तो उसकी राइडिंग रेंज पर ध्यान दें कि वह बैटरी की वर्तमान चार्जिंग स्थिति में कितनी रेंज दे सकता है. क्योंकि, अगर आप अपना इलेक्ट्रिक स्कूटर लेकर घर से बाहर निकल गए और जितनी लंबी आपकी यात्रा होने वाली है उसके हिसाब से आपका स्कूटर चार्ज नहीं है तो आप को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

चार्जिंग प्वाइंट : बताया जा रहा है की चार्जिंग प्वाइंट का ध्यान रखना भी बहुत ही जरूरी है. अगर आप इलेक्ट्रिक स्कूटर लेकर घर से बाहर निकले हैं और आपको लगता है कि आपके स्कूटर की बैटरी थोड़ी कम है तो पहले ही यह देख लें कि जिस रास्ते पर आप जा रहे हैं, वहां चार्जिंग पॉइंट है या नहीं है. और, अगर है, तो कितनी दूरी पर है. यह पूरी कैलकुलेशन करने के बाद ही इलेक्ट्रिक स्कूटर लेकर घर से निकलें.

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : एक किलोमीटर पर केवल 20 पैसे का खर्चा, ये ई- स्कूटर कर रहा है दावा

सड़क की स्थिति : सिर्फ इलेक्ट्रिक स्कूटर के लिए ही नहीं, किसी भी वाहन के लिए सड़क की स्थिति महत्वपूर्ण होती है. जब आप अपना इलेक्ट्रिक स्कूटर लेकर बाहर निकलते हैं और आपको अगर सड़क खराब मिली है, जिसमें गड्ढे हैं और टूटी फूटी है, तो आपके स्कूटर की राइडिंग रेंज कम हो जाएगी. ऐसे में सड़क की स्थिति को भी ध्यान में रखें और उस हिसाब से अपनी यात्रा को शुरू करें.