भारतीय टीम के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने विराट कोहली का किया बचाव, सौरव गांगुली पर साधा निशाना

भारतीय टीम के पूर्व हेड कोच रवि शाश्त्री का मानना है की विराट कोहली से टीम इंडिया की वनडे कप्तानी वापस लेने वाले मुद्दे को बेहतर तरीके से संभाला जा सकता था। उन्होंने कहा कि विराट कोहली ने अपनी बात स्पष्ट तरीके से सामने रख दी है। अब यहां से चीजों को स्पष्ट करने की जिम्मेदारी बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली की है। विराट ने दक्षिण अफ्रीका के दौरै पर जाने से पहले वर्चुअल कॉन्फ्रेंस करके सौरव गांगुली के उस बयान का खंडन किया था जिसमें गांगुली ने कहा था कि उन्होंने व्यक्तिगत रूप से कोहली से टीम इंडिया की टी-20 कप्तानी ना छोड़ने का अनुरोध किया था।

यह भी पढ़ें  पाकिस्तान के तेज गेंदबाज वहाब रियाज सड़क किनारे बेच रहे हैं चने, देखिये वायरल VIDEO

आपको बता दे की विराट कोहली ने गांगुली के दावे को खारिज करते हुए कहा कि उनसे कप्तानी छोड़ने को लेकर किसी ने कोई अनुरोध नहीं किया था। बल्कि उनके टी-20 कप्तानी छोड़ने के ऐलान को अधिकारियों ने बहुत बेहतर तरीके से लिया था और इसे एक प्रगतिशील कदम करार दिया था। रवि शास्त्री ने इंडियन एक्सप्रेस के ई-अड्डा में कहा,’ विराट ने कहानी का अपना पक्ष बताया है। इस पर बोर्ड अध्यक्ष (सौरव गांगुली) को अपनी कहानी का पक्ष रखने की जरूरत है। अच्छी बातचीत से स्थिति को और बेहतर तरीके से संभाला जा सकता था।’ हालांकि शास्त्री ने रोहित शर्मा को नया वनडे कप्तान बनाने का सपोर्ट किया।

यह भी पढ़ें  बिहार के एक दर्जन से ज्यादा गांवों का होगा विकास, पटना से राजगीर की दूरी 33 किलोमीटर होगी कम

विराट कोहली ने गांगुली के दावे को खारिज करते हुए कहा कि उनसे कप्तानी छोड़ने को लेकर किसी ने कोई अनुरोध नहीं किया था। बल्कि उनके टी-20 कप्तानी छोड़ने के ऐलान को अधिकारियों ने बहुत बेहतर तरीके से लिया था और इसे एक प्रगतिशील कदम करार दिया था। रवि शास्त्री ने इंडियन एक्सप्रेस के ई-अड्डा में कहा,’ विराट ने कहानी का अपना पक्ष बताया है। इस पर बोर्ड अध्यक्ष (सौरव गांगुली) को अपनी कहानी का पक्ष रखने की जरूरत है।