विराट कोहली के लिए साल 2021 रहा सबसे खराब, 2 फॉर्मेट की कप्तानी गई, शतक भी नहीं लगा

टीम इंडिया के टेस्ट कप्तान विराट कोहली का शतकों का सूखा जारी है। कोहली पिछले दो सालों में कोई शतक नहीं लगा पाए हैं। रन मशीन कहे जाने वाले विराट बड़ी पारी नहीं खेल पा रहे हैं। 2008 में अपने करियर की शुरुआत करने वाले विराट के जीवन में 2020 पहला साल था, जब उनके बल्ले से कोई शतक नहीं निकला था। बता दे की विराट कोहली (Virat Kohli) के नाम की चर्चा इस समय सबसे अधिक हो रही है. ऐसा इसलिए है, क्योंकि बीसीसीआई (BCCI) ने उन्हें वनडे टीम की कप्तानी से हटा दिया है. रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को टी20 के बाद वनडे टीम की कप्तानी भी दी गई है.

यह भी पढ़ें  आवेश खान की रफ्तार का कहर, दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी का बैट टूटा- Watch

आपको बता दे की अब 2021 भी लगभग खत्म होने की कागार पर है और विराट इस साल में भी कोई शतक नहीं लगा पाए हैं। अगर कोहली अफ्रीका दौरे में पहले ही मैच में शतकीय पारी नहीं खेलते हैं तो इस साल भी उनके बल्ले से कोई शतक नहीं निकलेगा। इसके साथ ही यह लगातार दूसरा साल होगा जब वो कोई शतक नहीं लगा पाएंगे। विराट काेहली को कप्तानी से हटाने के पीछे सबसे बड़ा कारण आईसीसी ट्राॅफी नहीं जीतना रहा. इस साल वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC Final)के फाइनल में टीम को न्यूजीलैंड से हार मिली थी. फिर यूएई में हुए टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) की बात की जाए तो टीम का प्रदर्शन औसत से नीचे आ गया.

यह भी पढ़ें  लाल जोड़े में इस महिला क्रिकेटर ने फैंस को बनाया दीवाना, सोशल मीडिया पर शेयर की ये खूबसूरत Photos

जानकारी के लिए बता दे की नवंबर 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ शतक लगाने के बाद विराट ने तीनों फॉर्मेट में कुल 51 मैच खेले हैं और 39.70 के औसत से 2025 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका सर्वाधिक स्कोर नाबाद 94 रन रहा है। यह पारी भी उन्होंने टी-20 में खेली थी। टेस्ट में उनका हाल और भी खराब है, जहां उनकी सबसे बड़ी पारी 74 रन की रही है।