यात्रीगण कृपया ध्यान दे ! ये सभी ट्रेनों में आप पहले जैसे जेनरल टिकट पर कहीं भी आ जा सकते है |

दीवाली और छठ से पहले रेलवे ने आम यात्रियों को बड़ी राहत देने का एलान कर दिया है। कम दूरी की ट्रेनों में अब यात्री पहले की तरह जनरल टिकट पर सफर कर सकेंगे। जनरल कोच में सफर के लिए अब आरक्षण की रूकावट नहीं रहेगी। शुक्रवार को भारतीय रेलवे बोर्ड के संयुक्त निदेशक यात्री विपणन संजय मनोचा ने इससे जुड़ा आदेश जारी कर दिया। बोर्ड से अनुमति मिलने के साथ ही धनबाद से बिहार के राजधानी पटना जानेवाली गंगा-दामोदर एक्सप्रेस, धनबाद-पटना इंटरसिटी एक्सप्रेस और धनबाद-डेहरी आन सोन इंटरसिटी एक्सप्रेस के जनरल कोच में जनरल टिकट पर सफर का मौका मिल सकेगा।

यह भी पढ़ें  ट्रेन में यह गलती करना पड़ सकता है बहुत भारी, जुर्माने के साथ-साथ हो सकती है जेल

पूर्व मध्य रेल के अधीन वैसी ट्रेनें जो इससे सटे दक्षिण पूर्व रेलवे और पूर्व रेलवे के दायरे वाले स्टेशनों तक जाती हैं। उनमें मौजूदा सेकेंड सीटिग कोच में बगैर आरक्षण के जनरल टिकट से यात्रा की जा सकेगी। धनबाद से हावड़ा जानेवाली कोलफील्ड एक्सप्रेस, ब्लैक डायमंड एक्सप्रेस और रांची इंटरसिटी एक्सप्रेस के यात्री जनरल टिकट से यात्रा कर सकेंगे। किन-किन ट्रेनों में जनरल कोच से यात्रा की अनुमति दी जाएगी।

रेलवे ने सेकेंड सीटिग के सभी कोच जनरल बनेंगे या सीमित संख्या में बदलाव होगा, यह निर्णय जोनल स्तर पर होगा। कोविड नियमों का पालन कर जनरल कोच से सफर की अनुमति जोनल रेलवे देंगे। –इनसेट– लंबी दूरी की ट्रेनों में सेकेंड सीटिग कोच अगले आदेश तक लंबी दूरी की ट्रेनों में फिलहाल कोई बदलाव नहीं होगा। इन ट्रेनों के जनरल कोच सेकेंड सीटिग की श्रेणी में ही रहेंगे। सफर के लिए यात्रियों को पहले से आरक्षण कराना होगा। अगले आदेश तक यह व्यवस्था बरकरार रहेगी। आरक्षण कराने के लिए पिन कोड, जिला और संबंधित राज्य के साथ गंतव्य का पूरा पता बताने की व्यवस्था भी लागू रहेगी।

यह भी पढ़ें  लंबी दूरी की ट्रेनों में भी जनरल टिकट पर होगा सफर, जानिए कैसे