बिहार के इस रेल कारखाने ने बनाया कीर्तिमान, 300वें रेल इंजन को डीएम ने झंडी दिखाकर किया रवाना

मढ़ौरा रेल इंजन फैक्ट्री ने 300 वे रेल इंजन का निर्माण पूरा किया तो यहां खुशी की लहर दौड़ पड़ी. मढ़ौरा रेल इंजन फैक्ट्री के द्वारा बनाए गए 300 वे रेल इंजन को सोमवार को डीएम नीलेश रामचंद्र देवरे ने हरी झंडी दिखाकर फैक्ट्री से रवाना किया।. जानकारी के लिए बता दें कि वेबटेक मढ़ौरा रेल इंजन फैक्ट्री में गत 2 सितंबर 2018 में रेल इंजन का उत्पादन शुरू किया था और इस फैक्ट्री ने 3 साल के अंदर रिकॉर्ड 300 में रेल इंजन को बनाकर भारतीय रेलवे को सौंप दिया है.

भारतीय रेल से किए गए करार के मुताबिक इस रेल इंजन फैक्ट्री को 10 साल के अंदर 1000 डीजल रेल इंजन बनाकर देने हैं और इस करार के मुताबिक कंपनी ने अपने लक्ष्य के अनुरूप प्रति वर्ष 100 इंजन का निर्माण कर अपनी कार्यकुशलता का परिचय दिया है.

यह भी पढ़ें  बिहार में लम्बे सफ़र करने वाले यात्रिओ को नहीं होगी परेशानी, 50 से अधिक ट्रेन का शुरू हुआ परिचालन

भारतीय रेलवे से हुए करार के मुताबिक मढ़ौरा वेबटेक रेल इंजन फैक्ट्री को 10 साल में 4500 हॉर्स पावर और 6000 हॉर्स पावर की कुल 1000 डीजल रेल इंजन बनाकर देनी है. कंपनी के उत्पादन के इस तीसरी वर्षगांठ के मौके पर जब 300 वे रेल इंजन को बनाकर बाहर निकाला गया तो वहां मौजूद सभी अधिकारी और कर्मचारियों ने तालियां बजाकर इसका स्वागत किया। इस मौके पर ईस्टर्न सेंट्रल रेलवे के सीईओ सीएन सिंह, वेवटेक रेल इंजन फैक्ट्री मढ़ौरा के वाइस प्रेसिडेंट शंकर ज्योतिधर, वेबटेक इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट साजिद इकबाल के साथ वेबटेक रेल इंजन कंपनी की पूरी टीम मौजूद थी.

यह भी पढ़ें  पटना में बनेगा मल्टीलेयर जंक्शन, आठ जिलों में 15 आरओबी को मंजूरी, जुलाई में होगा 12 हजार करोड़ का टेंडर