UPSC में बिहार के शुभम का जलवा, बने आल इंडिया IAS टॉपर पिता बनाना चाहते थे इंजीनियर

यूपीएससी की परीक्षा को अपने आप में सबसे कठिन और कड़ा एग्जाम माना जाता है | असंभव की भी एक न एक दिन शुरुआत करनी ही पड़ती है | और जब उसे सफलता मिलती है तो वही शख्स आने वाले पीढ़ी के लिए मार्ग दर्शन का कारण बनते हैं | जो भी IAS बनते है वो  लोगों के लिए मिसाल बन जाते हैं | गरीबी को अपने रास्ते में नहीं आने देते वो लोग कुछ भी कर सकते है जी हाँ दोस्तों, उत्साह और कठोर परिश्रम के द्वारा किसी भी लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है। हम इसी तरह का उदहारण पेश कर रहे है | जिसे लोग कॉलेज के समय में इंग्लिश में थोडा कमजोर होने के कारण उसका मजाक बनाते थे | आज उसी ने जो कर दिखाया वह अपने आप में एक मिसाल है |

यह भी पढ़ें  बिहार में पर्यटन स्थलों पर बनेंगे सेल्फी प्वाइंट, विभाग ने जगह चिह्नित कर सभी जिलों से मांगी रिपोर्ट

बिहार की प्रतिभा पुरे देश में हमेशा से अब्बल रहा है और अगर सिविल सेवा एग्जाम की बात हो तो बिहार शुरू से ही अपने एक स्थान पुरे देश में रखता है इसी बिच अब बिहार के लाल ने एक बार फिर कमाल किया है. बिहार के कटिहार जिले के शुभम कुमार ने UPSC परीक्षा में टॉप किया और एक नया रिकॉर्ड बनाया है जिसके बाद उनके परिवार में और गांव में ख़ुशी की लहार दौर गई है।

शुभम कुमार जब अपने गाव में प्रवेश किये तो उनके साथ लोगो ने सेल्फी लेने के लिए हुरदंग कर दी सबसे ज्यदा तो युवा लोग इन सबसे से होते हुए शुभम जब अपने घर पहुंचे तो दहलीज पर उनकी मां ने उन्‍हें तिलक लगाकर और फूल-मालाएं पहना कर अपने होनहार बेटे को गले से लगा लिया | वहां मौजूद लोग मां की ममता देख कर भावुक हो उठे

यह भी पढ़ें  यात्रियों के लिए अच्छी खबर, बिहार की इन कैंसिल ट्रेनों को रेलवे ने क‍िया बहाल, देखें लिस्ट

इससे पहले, रविवार को दिल्ली से फ्लाइट से बागडोगरा पहुंचे शुभम को एयरपोर्ट पर रिसीव करने पहुंचे उनके पिता अपने बेटे को देखते ही रो पड़े. शुभम भी खुद को रोने से रोक न सके और उनके भी प्यार के आंसू छलक उठे. यहां से शुभम सड़क मार्ग से कटिहार के लिए रवाना हुए | रास्ते में वो कुछ समय के लिए किशनगंज में रूके | शुभम यहां किशनगंज डीएम के आवास पहुंचे |