रक्षाबंधन पर इस बार नहीं रहेगा भद्रा का साया, जानिए शाम कितने बजे तक बांधी जा सकेंगी राखी

भारत में रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) का पर्व बेहद ही धूमधाम से मनाया जाता है। ये त्योहार भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक है। इस दिन बहन अपने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र यानी राखी (rakhi) बांधकर उसकी लंबी उम्र की प्रार्थना करती है। हिंदू धर्म में राखी (rakhi) शुभ मुहूर्त में ही बांधने की परंपरा है। आपको बता दे की इस त्योहार में इस बात पर विशेष ध्यान दिया जाता है कि कहीं भद्रा का साया तो नहीं पड़ रहा है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस बार राखी (rakhi) 22 अगस्त रविवार को मनाई जा रही है। जानिए राखी (rakhi) बांधने का शुभ समय कब तक रहेगा।

यह भी पढ़ें  RRB-NTPC 2022 परीक्षा के लिए बिहार से इन शहरों के लिए चलेंगी ट्रेनें, यहां देखें लिस्ट और टाइम टेबल

नहीं रहेगा भद्रा का साया: राखी (rakhi) का त्योहार श्रावण मास की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। पूर्णिमा तिथि की शुरुआत 21 अगस्त को शाम 7 बजे से हो जाएगी और इसकी समाप्ति 22 अगस्त को शाम 5 बजकर 31 मिनट पर होगी। रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) पर भद्रा सुबह 6.15 पर ही समाप्त हो रहा है। इसलिए बहनें भाईयों को 22 अगस्त को सुबह 6.15 से लेकर शाम 05.31 बजे तक राखी बांध सकेंगी। यानी राखी बांधने के लिए 11 घंटे 16 मिनट का समय आपके पास रहेगा।