अमरूद खाने से भी हो सकता है नुकसान, ऐसे लोगों को गलती से भी नहीं खाना चाहिए

सावन के महीने में अमरूद (guava) की महक बाग-बगीचों के साथ बाजार में भी फैली हुई है। अमरूद (guava) अपने स्वाद के लिए ही नहीं, बल्कि अपने लाभकारी गुणों के लिए भी जाना जाता है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि अमरूद (guava) खाने से भी नुकसान हो सकता है। यदि नहीं तो यह खबर आपके काम की है। अमरूद (guava) पौष्टिकता से भरपूर होता है। लेकिन कुछ लोगों के लिए इसका सेवन उनकी सेहत के लिए अच्‍छा नहीं होता है। ऐसे लोगों को अमरूद (guava) खाने से परहेज करना चाहिए।

पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है अमरूद

आपको बता दे की अमरूद (guava) कई बीमारियों को दूर करने के लिए दवा के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। अमरूद (guava) के फल ही नहीं, इसके पत्‍ते भी गुणकारी होते हैं। आयुर्वेद में अमरूद (guava) के पत्ते के अर्क का इस्तेमाल ह्दय को स्वस्थ्य बनाने, पाचन तंत्र को मजबूत करने और रोग प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

यह भी पढ़ें  यात्रीगण ध्यान दें! ECR ने की 48 ट्रेनें रद्द, गरीब रथ, बिहार संपर्क क्रांति समेत कई गाड़ियां शामिल, देखें लिस्ट

रांची सदर अस्पताल (Sadar Hospital Ranchi) की डाइटिशियन डाॅ. ममता कुमारी बताती हैं कि अमरूद (guava) एंटीआक्सीडेंट, विटामिन सी और पोटेशियम से भरपूर होता है। एक साधारण आकार के अमरूद (guava) में 112 ग्राम कैलोरी और 23 ग्राम से अधिक कार्बोहाइड्रेट होता है। इसमें फाइबर की मात्रा लगभग नौ ग्राम होती है। अच्छी बात यह है कि अमरूद (guava) में स्टार्च नहीं होता है। एक कप कटे हुए अमरूद (लगभग 250 ग्राम) में वसा की मात्रा 1.6 ग्राम होती है। लेकिन इसमें प्रोटीन की मात्रा बहुत अधिक होती है।

इससे अमरूद (guava) के फायदे बढ़ जाते हैं। आपको बता दे की अमरूद में कई माइक्रो और मैक्रो न्यूट्रिएंट भी पाए जाते हैं। इस मौसम में कम से कम एक अमरूद (guava) रोज खाना चाहिए। यह फल मधुमेह से पीड़ित लोगों के लिए भी फायदेमंद है। इसमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है। इसके अलावा फोलेट और बीटा कैरोटीन जैसे कुछ अन्य पोषक तत्व हैं, जो इस फल में प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं।

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : सस्ता हो गया सरसों का तेल, खरीदारी से पहले चेक कर लें कितनी गिरी 1 लीटर की कीमत?

ज्यादा अमरूद खाना कर सकता है नुकसान

डाॅ. ममता कुमारी बताती हैं कि किसी भी चीज का ज्यादा सेवन शरीर को बहुत नुकसान पहुंचा सकता है। अमरूद (guava) में तमाम तरह के पोषक तत्व हैं। मगर फिर भी इसका ज्यादा इस्तेमाल शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। अमरूद (guava) में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। मगर इसका ज्यादा सेवन ब्लोटिंग या लूज मोशन का कारण बन सकता है। इसके साथ ही अमरूद (guava) को सही तरीके से नहीं खाने पर यह सर्दी-खांसी का कारण बन सकता है। अमरूद (guava) हमेशा नमक (salt) के साथ खाना चाहिए। अमरूद खाने के तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए।

यह भी पढ़ें  ये 2 सरकारी बैंक जल्द होने जा रहे प्राइवेट, फटाफट चेक करें आपका भी है क्या खाता?