Bihar Train Update: भारी बारिश और बाढ़ से 3 लाख से ज़्यादा लोग प्रभावित, कई ट्रेनें हुईं रद्द, यहां देखें पूरी लिस्ट

भारी बारिश (Heavy Rainfall) के बाद बिहार की नदियों में आई बाढ़ (Bihar Flood) के कारण जन जीवन अस्त-व्यस्त है. आपको बता दे की पूर्व रेलवे के मालदा मंडल के अंतर्गत भागलपुर से सटे सुल्तानगंज-रतनपुर रेलखंड के बीच रेल पुलों के पास बाढ़ का पानी आ जाने के कारण 16 किमी लंबे इस रेलखंड (Train Cancelled) के अप और डाउन लाइन पर ट्रेनों का परिचालन प्रभावित हुआ है.

इसको लेकर रेलवे ने एहतियाती कदम उठाते हुए भागलपुर से मुंगेर और भागलपुर से किऊल तक दोनों दिशाओं में ट्रेनों का परिचालन अस्थाई रूप से स्थगित कर दिया है. वहीं शनिवा को दोपहर बाद ट्रेनों का परिचालन रोका गया है. इस वजह से अब साहिबगंज की ओर से आने वाली ट्रेनों को भागलपुर में टर्मिनेट कर दिया गया.

यह भी पढ़ें  होली से पहले रेलवे ने किया बड़ी संख्या में ट्रेनों को कैंसिल, रेलवे स्टेशन निकलने से पहले चेक कर लें रद्द ट्रेनों की लिस्ट

ये ट्रेने की गईं डाइवर्ट

02335 : भागलपुर एलटीटी स्पेशल वाया बांका-जसीडीह
03413 : मालदा दिल्ली फरक्का एक्सप्रेस वाया बरौनी
03023 : हावड़ा गया एक्सप्रेस वाया आसनसोल-झाझा
03484 : दिल्ली मालदा फरक्का एक्सप्रेस वाया बरौनी
02368 : विक्रमशिला एक्सप्रेस वाया झाझा-बांका
05956 : डाउन ब्रह्मपुत्र मेल दिल्ली कामाख्या वाया बरौनी
05647 : डाउन लोकमान गोवाहाटी दादर एक्सप्रेस वाया बरौनी
03024 : गया हावड़ा एक्सप्रेस वाया झाझा

ये ट्रेने की गईं शार्ट टर्मिनेट

03071 : हावड़ा जमालपुर सुपर एक्सप्रेस भागलपुर
03235 : साहिबगंज दानापुर इंटरसिटी भागलपुर
03401 : भागलपुर दानापुर भागलपुर इंटरसिटी जमालपुर
03402 : डाउन दानापुर-भागलपुर इंटरसिटी जमालपुर
03410 : किऊल मालदा स्पेशल जमालपुर

ये ट्रेनें हुईं रद्द

03072: जमालपुर हावड़ा सुपर एक्सप्रेस
03432 : जमालपुर साहिबगंज पैसेंजर
03459/60: जमालपुर भागलपुर जमालपुर
03419/20: भागलपुर मुजफ्फरपुर भागलपुर जनसेवा एक्सप्रेस
03405: भागलपुर जमालपुर डीएमयू

यह भी पढ़ें  15 दिन के अन्दर 2 लाख से अधिक शिक्षकों का होगा तबादला, शिक्षिका को मिलेगा मनचाहा जगह

लगातार बढ़ रहा है जलस्तर

आपको बता दे की वहीं गंगा का जलस्तर इस हफ्ते की शुरुआत में खतरे के निशान से ऊपर पहुंचने और उसमें लगातार वृद्धि होने के कारण शनिवार तक पटना जिले में करीब तीन लाख लोग बाढ़ की चपेट में आ गए. पिछले कुछ सप्ताह से गंगा नदी के जलस्तर में लगातार वृद्धि हो रही है और वह फिलहाल निशान से एक मीटर ऊपर बह रही है.