Bihar: जीजा तो बड़ा कलाकार निकला, मजाक-मजाक में साली को ऐसा पाठ पढ़ाया कि…

मुजफ्फरपुर- शहर के गोबरसही इलाके से जीजा द्वारा नाबालिग साली को बहकाने और बाद में अपहरण करने का मामला सामने आया है। इस संबंध में नाबालिग के स्वजनों ने सदर थाना मेें अपने दामाद के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है। इसके बाद पुलिस ने वैज्ञानिक आधार पर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस को दिए आवेदन में स्वजनों का कहना है कि मधुबनी निवासी विनोद सहाय उनके दामाद हैं। वे काफी समय से इनलोगों के साथ ही रहते थे। इस दौरान अपनी साली से हंसी-मजाक करते रहते थे। घर के लोगों को किसी प्रकार का शक नहीं हुआ क्योंकि दोनों का रिश्ता ही कुछ ऐसा था, लेकिन विनोद बड़ा कलाकार निकला।

यह भी पढ़ें  बिहार के इस क्षेत्र में अब पेयजल के लिए देना होगा चार गुना अधिक शुल्क, जानें लागू हुए नये नियम

उसने हंसी-मजाक के दौरान ही 16 साल की नाबालिग साली को कई उल्टी-सीधी बातें पढ़ा दीं। इसके बाद उसके व्यवहार में बदलाव होने लगा। वह अधिक समय तक जीजा के आसपास ही रहने लगी। इसका युवक की पत्नी भी विरोध करती थी, किंतु दोनों पर इसका कोई खास प्रभाव नहीं पड़ा। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए नाबालिग के घरवालों ने उसे समझाना शुरू किया। उसे रिश्ते के नाजुक डोर के बारे में बताया। उसे उसकी बहन की जिंदगी का हवाला दिया।

ससुराल वालों ने अपने दामाद को भी समझाया, परंतु बात आगे बढ़ गई थी। संभवत: वहां तक चली गई थी जहां से पीछे लौटने का विकल्प नहीं होता है। जब दोनों के रवैये में कोई बदलाव नहीं हुआ तो विनोद के ससुराल वालों ने सख्ती से बात की। जिसके बाद कहासुनी होने लगी और वह यहां से अपने घर मधुबनी लौट गया। इसी बीच विगत 10 जून को नाबालिग अपनी दो सहेलियों के साथ कपड़ा खरीदने गोबरसही गई थी। पूरा दिन गुजर जाने के बाद भी वह वापस नहीं आई।

यह भी पढ़ें  बिहार में अब प्लास्टिक के कचरों से मिलेगी राहत, बिहार में लगाया गया रिवर्स वेंडिंग मशीन

इसके बाद अपने स्तर से उसकी खोज शुरू हुई। सभी रिश्तेदारों और सहेलियों के पास तलाश की गई, लेकिन कोई सुराग हाथ नहीं लगा। निराश होकर स्वजनों ने इसकी सूचना थाने में दी। जिसमें अपने दामाद पर ही छोटी बेटी को बहला-फुसलाकर गलत नीयत से अपहरण करने का आरोप लगाया। पूरे मामले के बारे में जब थानाध्यक्ष सत्येंद्र कुमार से बात की गई तो उन्होंने कहा कि यह संवेदनशील मामला है। प्राथमिकी दर्ज करने के बाद आरोपित और उस नाबालिग के मोबाइल की सीडीआर मंगवाई जा रही है। इसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।