बिहार के सवा करोड़ बच्‍चों के खातों में जाएंगे 489 करोड़ रुपए, सरकारी स्‍कूलों में पढ़ने वालों को मिलेगा लाभ

बिहार के सरकारी विद्यालयों के बच्चे के लिए यह बहुत ही बड़ी खबर है. बता दे की बिहार में अब शिक्षा विभाग द्वारा 72 हजार प्रारंभिक विद्यालयों में पहली से आठवीं कक्षा तक के तकरीबन सवा करोड़ विद्यार्थियों को पुस्तकें क्रय हेतु राशि मुहैया कराने की तैयारी हो रही है। इसके लिए विभाग ने तय किया है कि विद्यार्थियों को पुस्तकें क्रय हेतु गर्मी की छुट्टी घोषित होने से पहले राशि बच्चों के खाते में उपलब्ध करा दी जाए। विभाग ने टेक्स्ट बुक मद में करीब 489 करोड़ रुपये बजट का प्रविधान किया है।

प‍िछले साल सवा करोड़ बच्‍चों को मिला इसका लाभ : आपको बता दे की बिहार में छह से 14 साल के विद्यार्थियों को मुफ्त एवं अनिवार्य शिक्षा (आरटीई) अधिकार के तहत शिक्षा विभाग द्वारा हर साल विद्यार्थियों के खाते में डीबीटी के माध्यम से पैसे उपलब्ध कराया जाता है। बताया जा रहा है की पिछले वर्ष एक करोड़ 21 लाख 96 हजार 246 विद्यार्थियों के खाते में पुस्तकें क्रय हेतु 378 करोड़ 62 लाख 77 हजार 856 रुपये ट्रांसफर किए गए थे।

  • सवा करोड़ विद्यार्थियों के लिए पुस्तक क्रय को जल्द मिलेगी राशि
  • पहली से पांचवीं कक्षा में प्रत्येक विद्यार्थी के खाते में ढाई सौ रुपये 
  • छठी से आठवीं वालों के खाते में चार सौ रुपये दिए जाएंगे
  • टेक्स्ट बुक के मद में करीब 492 करोड़ रुपये का बजट