बिहार को मिला दो हाइड्रो प्रोजेक्ट की मिली मंजूरी, 1450 मेगावाट बिजली का होगा उत्पादन जानिए पूरा खबर

बिहार ही नहीं बल्कि बिहार के साथ-साथ पूरा देश इस समय बिजली के संकट से जूझ रहा है. बिजली संकट के मद्देनजर बिहार सहित देश के कई राज्यों में कई घंटों तक बिजली की आपूर्ति बाधित हो रही है। हालांकि बिहार सरकार ने अभी तक इस पर कोई खास निर्णय नहीं लिया है. लेकिन भविष्य में बिहार में भी बिजली संकट उत्पन्न होने की संभावनाएं जताई जा रही है। इसी कड़ी में बिहार के लिए एक राहत भरी खबर सामने आई है। कोसी नदी के नेपाल वाले क्षेत्र में बिजली उत्पादन की पूरी संभावनाएं दिखाई देने लगी है जिसके बाद कोसी नदी पर पनबिजली योजना के अंतर्गत 1450 मेगावाट बिजली उत्पादन करने की तैयारियां हो रही है। ये तैयारिया इसलिए की जा रही है | की आने वाले समय में बिहार को बिजली की संकट से जूझना नहीं पड़े |

यह भी पढ़ें  पहले दिन 25 हजार से अधिक अभ्यर्थियों को मिले नियुक्ति पत्र, पढ़े पूरी खबर…

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक नेपाल के कोसी क्षेत्र में 2 परियोजनाएं लगाई जाएंगे। यह पनबिजली परियोजना सतलुज जल विद्युत निगम लिमिटेड की ओर से लगाया जाएगा। बिहार के इस परियोजना के पूर्ण होने के बाद ना केवल बिहार की बिजली आपूर्ति की समस्या का समाधान होगा वही बिहार के बाहरी राज्यों में भी इसके माध्यम से विद्युत की सप्लाई की जा सकेगी। तो ये बिहार वासी के लिए एक बहुत बड़ी उपलब्धि होगी |

बता दे की दो परियोजना में से पहली परियोजना 900 मेगावाट बिजली जबकि दूसरी परियोजना से 680 मेगावाट बिजली का उत्पादन की जाने की संभावना है। इसके साथ ही आने वाले समय में अरुण कोसी पर और भी परियोजनाएं स्थापित की जाएंगी जिसके माध्यम से 1450 मेगा वाट बिजली तक का उत्पादन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें  बिहारी छोरे ने जीता दिल तो जर्मनी से ब्याह रचाने भारत पहुंची लारिसा, हिंदू रीति-रिवाज से रचाई शादी