1 अप्रैल से 11 फीसदी तक महंगी हो जाएंगी 376 बीमारियों की जरूरी दवाइयां, चेक करें लिस्ट

देश के आम नागरिको को महंगाई का और झटका लग सकता है. बता दे की 1 अप्रैल से सामान्य सर्दी, जुखाम, बुखार जैसी बीमारियों की दवाइयां महंगी होने जा रही हैं. इन दवाओं के रेट करीब 11 फीसदी तक बढ़ने वाले हैं, जो आने वाले दिनों में लोगों की मुसीबत और बढ़ाएंगे.

आपको बता दे की महंगाई के बोझ तले दबी जनता को महंगाई का एक और झटका लगने वाला है. एक अप्रैल से सामान्य सर्दी, बुखार, बीपी, शुगर, टीबी और माइग्रेन समेत 376 बीमारियों की दवाएं महंगी होने जा रही हैं. जीवन में सबसे महत्वपूर्ण मानी जाने वाली जीवन रक्षक दवाओं की कीमतें बढ़ने से लोगों की मुसीबतें बढ़ जाएंगी. कच्चे माल की कीमत में बढ़ोतरी और नए बजट के प्रावधानों के कारण दवाओं के रेट बढ़ रहे हैं.

11 फीसदी तक बढ़ेंगे रेट : खास बात यह है की दवाओं के लिए कच्चा माल उपलब्ध कराने वाले बेसिक ड्रग डीलर एसोसिएशन के महासचिव जेपी मूलचंदानी का कहना है कच्चे माल की कीमतों में 15 से 150 फ़ीसदी तक वृद्धि हो चुकी है. दवाओं की पैकिंग में लगने वाले मटेरियल के रेट में दोगुने से ज्यादा का इजाफा हो गया है.

जरूरी दवाइयां भी महंगी होंगी : बताया जा रहा है की दवा बाजार के विशेषज्ञों का कहना है पिछले तीन साल से दवाइयों के दाम नहीं बढ़े हैं. महंगाई लगातार बढ़ रही है. उत्पादन लागत बढ़ने से दवाओं की कीमतें बढ़ रही हैं. लेकिन चौंकाने वाली बात ये है कि इनमें पैरासिटामोल, एजिथ्रोमाइसिन, सिप्रोफ्लोक्सिन, हाइड्रोक्लोराइड, मेट्रोनिडाजोल के अलावा विटामिन, मिनरल्स और खून बढ़ाने वालीं दवाओं के रेट बढ़ रहे हैं.