aeb6d8f9 6e8b 42c5 9a6f 578c52bacb25 79

बिहार : पहले आप सुनते होंगे की जम्मू एंड कश्मीर में सेव की खेती होती है | और सिर्फ ठन्डे प्रदेश में ही सेव की खेती होती है | लेकिन अब बिहार जैसे राज्य में भी लोग कर पायेंगे सेव की खेती अब बिहार में 45 डिग्री तापमान पर भी होगा सेव की खेती | बिहार के किसानों को सेब की खेती की ओर प्रेरित करने के लिए कृषि विभाग एवं इससे जुड़े अधिकारी किसानों से लगातार संपर्क स्थापित कर उन्हें इसके बारे में विस्तार से जानकारी दे रहे हैं।

आपको बता दे की बिहार के समस्तीपुर जिला स्थित पूसा में डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद विवि पूसा से जुड़े लोग और उनके अधिकारिओ का कहना है की सेब एक शीतोष्ण यानी कम तापमान में उगाया जाने वाला फल है। लेकिन अब बिहार भी सेव के खेती करने से अछूता नहीं रहा और बिहार के लोग प्रजाति हरिमन-99 को बिहार के उतरी क्षेत्र में बहुत उगाया जाता है | मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बिहार के औरंगाबाद, वैशाली, मुजफ्फरपुर, बेगूसराय, भागलपुर सहित इत्यादि जिलों के किसान ने प्रयोग के तौर पर इसका खेती किया जो की किसानो के लिए वरदान शाबित हुआ | और लोग इससे इम्प्रेसित होकर और भरी मात्र में और अत्यधिक जगहों पर खेती कर रहे है |

Also read: बिहार में गर्मी से मिलेगी राहत, इस दिन होगी मॉनसून की वापसी

Also read: बिहार के 7 जिलों में मेघगर्जन के साथ बारिश का अलर्ट, जाने अपने जिले का मौसम

बताया जा रहा है की सेव की खेती ठंडे प्रदेशों में होती है। हालांकि सेब की नई प्रजाति हरीमन 99 की खेती किसान 45 डिग्री तापमान वाले क्षेत्रों में भी अब आम तौर पर कर सकते हैं। बिहार के कुछ जिलों को छोड़कर उत्तर बिहार के प्रायः जिलों में इसकी खेती की जा सकती है। वही इसकी खेती करने में किसान को एक बीघा करने में लगभग एक लाख रुपये के आस-पास पड़ता है | लेकिन अगर खेती अच्छी तरीके से संभल जाए तो हम इससे तीन से चार गुना ज्यदा मुनाफा भी कम सकते है |

Raushan Kumar is known for his fearless and bold journalism. Along with this, Raushan Kumar is also the Editor in Chief of apanabihar.com. Who has been contributing in the field of journalism for almost 4 years.